एक किसान एक ट्रांसफोर्मर योजना महाराष्ट्र|

Maharashtra

एक किसान एक ट्रांसफोर्मर योजना|महाराष्ट्र एक किसान एक ट्रांसफोर्मर योजना|महाराष्ट्र किसान ट्रांसफोर्मर योजना|Maharashtra One Farmer One Transformer yojana in hindi|

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं हम अपनी वेबसाइट पर सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी देते हैं | आज हम महाराष्ट्र एक किसान एक ट्रांसफोर्मर योजना जानकारी लेकर आए हैं| हम आपको बताएंगे कि महाराष्ट्र किसान ट्रांसफोर्मर योजना क्या है और  किस प्रकार एक किसान एक ट्रांसफोर्मर योजना महाराष्ट्र लाभ ले सकते हैं| इसकी संपूर्ण जानकारी हम अपने आर्टिकल में आपको उपलब्ध करवाएंगे|

महाराष्ट्र एक किसान एक ट्रांसफार्मर योजना महाराष्ट्र के किसानों के लिए शुरू की गई है|महाराष्ट्र सरकार बिजली के नुकसान को कम करने के लिए राज्य के किसानों के लिए एक नई योजना शुरू करने जा रही है। इस योजना का नाम महाराष्ट्र एक किसान एक ट्रांसफार्मर योजना है। राज्य सरकार अगले महीने 15 अगस्त (स्वतंत्रता दिवस) पर इस योजना को शुरू करेगी।

महाराष्ट्र किसान ट्रांसफोर्मर योजना

Maharashtra One Farmer One Transformer yojana के तहत प्रति किसान एक ट्रांसफॉर्मर उपलब्ध कराया जाएगा जिससे उच्च वोल्टेज वितरण लाइन के लिए बिजली कनेक्शन दिया जाएगा। इस योजना से राज्य के दो लाख किसानों के लिए निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित होने का अनुमान है। ऊर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि राज्य में कुछ जगहों पर 50 फीसदी तक बिजली की कमी है जिसे सरकार 15 फीसदी के लक्ष्य तक ले जाना चाहती है।

इतना ही उन्होंने इसके अलावा भी बिजली की समस्या को भी दूर करने पर जोर दिया है इसके साथ ही राज्य के करीबन दो लाख किसानों को उच्च वोल्टेज वितरण लाइन के लिए बिजली कनेक्शन दिया जाएगा जो निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करेगा।

एक किसान एक ट्रांसफोर्मर योजना

इसी विधानसभा में महाराष्ट्र के वन मंत्री सुधीर मुंगांतिवार ने अपने विभाग की मांगों का जवाब देते हुए जंगली जानवरों द्वारा हमले में मारे गए लोगों के लिए दिए गए मुआवजे में 2 लाख रुपये की वृद्धि की घोषणा की। जिसकी की उन निर्धन परिवारों की आर्थिक रूप से सहायता की जा सके।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक प्रभावित परिवार को अब 8 लाख रुपये की बजाय 10 लाख रुपये मिलेगा, उन्होंने कहा कि 3 लाख रुपये नकद में दिए जाएंगे और जमा के रूप में शेष होंगे। इसके साथ ही उन्होंने जंगली जानवरों द्वारा हमले में अपने मवेशियों को खोने वाले किसानों को अब 25,000 रुपये से 40,000 रुपये की वित्तीय सहायता देना का प्रस्ताव रखा। जिससे की जंगली जानवरों द्वारा हमले में होने वाली हानि से उभरा जा सके|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *